Friday, 18 May 2007

क्या होगा कलाम के रोड़ मैप का ?

कमोबेश अब ये माना जा रहा है की कलाम राष्ट्रपति पद दोबारा नही स्वीकार करेंगे ओर अब नए उम्मीदवार की तलाश में जोड़-तोड़ शुरू हो चुकी है । सभी पार्टियाँ अपनी-अपनी सम्भाव्नाये तलाशने मे लग गयी है ।

आज अचानक विचार आया कि देश को लेकर कलाम ने जो रोड़ मैप दिया था 'विसिओं २०२०' उसका क्या होगा । हमने कलाम को अपने देश के सिर्ष पर बैठाने के बाद कभी उनकी काबिलियत ओर मंशा पर सवाल उठाते हुए नही देखा ओर अगर एक-आध लोगो ने उठाएँ भी तो किसी ने उसपर विश्वास नही किया । अखीर ऐसी कोण सी बात है कि ये संत इन्सान दुबारा वो पद लेने को तैयार नही दिख रहा है । कही अपनी राजनीती में पैठ बना चुकी गंदगी को देखकर ही तो कलाम इससे दूर भागना तो नही चाह रहे है ।

अगला कोई भी बने वर्तमान में हमे इस पद के लिए और कोई योग्य उम्मीदवार नही दिख रहा है, अगर कलाम इस बार इनकार करते है तो ये साफ दिख रहा है कि सभी दल किसी ना किसी को ये पद तौफे के तौर पर बांटने कि तैयारी में है । और अगर ये भी ना हुआ तो कोई ना कोई कार्ड चलेगा । फीर ऐसा क्यों ना हो कि देश का ये सर्वोच्च पद इस महान वैज्ञानिक के पास ही रहे ।

2 comments:

नीरज दीवान said...

चिंता न करे. होते तो भी रोडमैप वैसा ही बना रहता. देश की तस्वीर इतनी जल्दी बदलने वाली है. वे मैप दे गए हैं. उसे ही संभाल लें हमारे नेता तो खैरियत है.

Mired Mirage said...

नेताओं के बावजूद भी देश उन्नति करेगा । धीरे ही सही पर करेगा ।
घुघूती बासूती